Ad Code

Responsive Advertisement

Difference Between AC and DC Generator in Hindi

Difference Between AC and DC Generator भौतिकी के प्रति उत्साही लोगों के बीच सबसे अधिक चर्चा वाले विषयों में से एक है। इस लेख में, ac and dc generator difference सारणीबद्ध रूप में सरल और आसान तरीके से दिए गए हैं। ये एसी और डीसी जनरेटर अंतर छात्रों को इस विषय के बारे में बेहतर ढंग से सीखने और बिंदुओं को अधिक प्रभावी ढंग से याद रखने में मदद कर सकते हैं।



 

Difference Between AC and DC Generator
Difference Between AC and DC Generator

 

मतभेदों पर जाने से पहले, एसी जनरेटर और डीसी जनरेटर के बारे में विस्तार से जानना महत्वपूर्ण है। उनके विवरण जानने से, मतभेदों को समझना आसान और सरल हो जाता है।

AC Generator in Hindi

एक एसी जनरेटर एक विद्युत जनरेटर है जो वैकल्पिक ईएमएफ या प्रत्यावर्ती धारा के रूप में यांत्रिक ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित करता है। एक एसी जनरेटर "विद्युत चुम्बकीय प्रेरण" के सिद्धांत पर काम करता है।

dc generator in Hindi

डीसी जनरेटर एक मशीन है जो यांत्रिक ऊर्जा को डीसी (प्रत्यक्ष धारा) बिजली में परिवर्तित करती है। ऊर्जा परिवर्तन प्रक्रिया ऊर्जावान रूप से प्रेरित इलेक्ट्रोमोटिव बल के सिद्धांत का उपयोग करती है।


Difference Between AC and DC Generator

 

1 परिभाषा

एसी जनरेटर एक यांत्रिक उपकरण है जो यांत्रिक ऊर्जा को एसी विद्युत शक्ति में परिवर्तित करता है।

डीसी जनरेटर एक यांत्रिक उपकरण है जो यांत्रिक ऊर्जा को डीसी विद्युत शक्ति में परिवर्तित करता है।

 

2 धारा की दिशा

एक एसी जनरेटर में, विद्युत प्रवाह समय-समय पर दिशा को उलट देता है।

एक डीसी जनरेटर में, विद्युत प्रवाह केवल एक दिशा में बहता है।

 

3 मूल डिजाइन

एक एसी जनरेटर में, कॉइल जिसके माध्यम से करंट प्रवाहित होता है, चुंबक के चलते समय स्थिर रहता है। निर्माण सरल है और लागत कम है।

एक डीसी जनरेटर में, कॉइल जिसके माध्यम से करंट प्रवाहित होता है, एक निश्चित क्षेत्र में घूमता है। समग्र डिजाइन बहुत सरल है लेकिन कम्यूटेटर और पर्ची के छल्ले के कारण निर्माण जटिल है।

 

4 कम्यूटेटर

एसी जनरेटर में कम्यूटेटर नहीं होते हैं।

डीसी जनरेटर में केवल एक दिशा में करंट प्रवाहित करने के लिए कम्यूटेटर होते हैं।



5 Rings

एसी जनरेटर में स्लिप-रिंग होते हैं।

डीसी जनरेटर में कम्यूटेटर होते हैं।



6 ब्रश की क्षमता

चूंकि स्लिप-रिंग्स में एक चिकनी और अबाधित सतह होती है, वे जल्दी से नहीं पहनते हैं और अत्यधिक कुशल होते हैं।

डीसी जनरेटर के ब्रश और कम्यूटेटर दोनों जल्दी खराब हो जाते हैं और इस तरह कम कुशल होते हैं।



7 शॉर्ट सर्किट संभावना

चूंकि ब्रश में उच्च दक्षता होती है, इसलिए शॉर्ट सर्किट की संभावना बहुत कम होती है।

चूंकि ब्रश और कम्यूटेटर जल्दी खराब हो जाते हैं, इसलिए स्पार्किंग और शॉर्ट सर्किट की संभावना अधिक होती है।



8 घूर्णन भागों (Rotating Parts)

एसी जेनरेटर में घूमने वाला हिस्सा एक कम करंट वाला उच्च प्रतिरोधकता वाला रोटर होता है।

डीसी जनरेटर में घूमने वाला हिस्सा आमतौर पर भारी होता है।



9 Current Induction for difference between ac and dc generator

एक एसी जनरेटर में, आउटपुट करंट को या तो स्टेटर में या रोटर में प्रेरित किया जा सकता है।

डीसी जनरेटर में, आउटपुट करंट केवल रोटर में प्रेरित किया जा सकता है।



10 आउटपुट वोल्टेज

एसी जनरेटर एक उच्च वोल्टेज उत्पन्न करते हैं जो आयाम और समय में भिन्न होता है। आउटपुट आवृत्ति भिन्न होती है (ज्यादातर 50 हर्ट्ज से 60 हर्ट्ज)।

डीसी जनरेटर एसी जनरेटर की तुलना में कम वोल्टेज का उत्पादन करते हैं जो आयाम और समय में स्थिर होता है यानी आउटपुट आवृत्ति शून्य होती है।



11 रखरखाव (Maintenance)

एसी जनरेटर को बहुत कम रखरखाव की आवश्यकता होती है और ये अत्यधिक विश्वसनीय होते हैं।

डीसी जनरेटर को लगातार रखरखाव की आवश्यकता होती है और कम विश्वसनीय होते हैं।



12 प्रकार (Types)

एसी जनरेटर अलग-अलग प्रकार के हो सकते हैं जैसे 3 फेज जेनरेटर, सिंगल फेज जेनरेटर, सिंक्रोनस जेनरेटर, इंडक्शन जनरेटर आदि।

डीसी जनरेटर मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं जो अलग से उत्साहित डीसी जनरेटर और स्व-उत्तेजित डीसी जनरेटर होते हैं। क्षेत्र और आर्मेचर कनेक्शन के अनुसार, उन्हें क्रमशः डीसी श्रृंखला, शंट या यौगिक जनरेटर के रूप में वर्गीकृत किया जा सकता है।


13 लागत (Cost)

एक एसी जनरेटर की प्रारंभिक लागत अधिक होती है।

एसी जनरेटर की तुलना में डीसी जनरेटर की प्रारंभिक लागत कम होती है।


14 वितरण और संचरण (Distribution and Transmission)

एसी जनरेटर से आउटपुट ट्रांसफॉर्मर का उपयोग करके वितरित करना आसान है।

डीसी जनरेटर से आउटपुट वितरित करना मुश्किल है क्योंकि ट्रांसफार्मर का उपयोग नहीं किया जा सकता है।


15 दक्षता (Efficiency)

एसी जनरेटर बहुत कुशल हैं क्योंकि ऊर्जा की हानि कम होती है।

स्पार्किंग और तांबे, एड़ी करंट, मैकेनिकल और हिस्टैरिसीस नुकसान जैसे अन्य नुकसानों के कारण डीसी जनरेटर कम कुशल होते हैं।



16 आवेदन (Applications)

इसका उपयोग घरों में छोटे मोटर्स और बिजली के उपकरणों (मिक्सर, वैक्यूम क्लीनर, आदि) को बिजली देने के लिए किया जाता है।

डीसी जनरेटर बहुत बड़े इलेक्ट्रिक मोटर्स को बिजली देते हैं जैसे कि मेट्रो सिस्टम के लिए आवश्यक होते हैं।

 



ये मुख्य एसी और डीसी जनरेटर अंतर थे। difference between ac and dc generator में, उनके बारे में गहन जानकारी देने के लिए कई उच्च-स्तरीय अवधारणाएं भी शामिल हैं। इंजीनियरिंग (विशेषकर इलेक्ट्रिकल) करने के इच्छुक छात्रों के लिए यह अत्यंत महत्वपूर्ण है।



इन अंतरों के अलावा, छात्र नीचे दिए गए अतिरिक्त संबंधित लेख भी देख सकते हैं। अतिरिक्त संबंधित लेख समान विषयों को बेहतर और अधिक प्रभावी तरीके से सीखने में मदद कर सकते हैं।

Post a Comment

0 Comments

Close Menu